आजादी के बाद पहली बार इस गांव में आई बिजली, खिल उठे ग्रामीणों के चेहरे

author image
Updated on 16 Jun, 2017 at 11:48 am

Advertisement

आजादी के 70 साल बाद आखिरकार लखनऊ के अचलीखेड़ा गांव के फकीरखेड़ा मजरे में लोगों को बिजली नसीब हुई। पहली बार यहां के लोगों के घर बिजली से रौशन हुए। यहां बल्ब रोशन होते ही ग्रामीणों के चेहरे खिल उठे।

केंद्र सरकार की ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत गांव में बिजली पहुंचाने का कार्य 20 दिन में पूरा कर लिया गया। इस गांव में बिजली पहुंचाने की योजना में करीबन 12 लाख खर्च हुए।

गौरतलब है कि देश आजाद होने के बाद पिछले 70 सालों में देश में ऐसे कई गांव हैं, जहां लोगों ने कभी बिजली देखी तक नहीं है, लेकिन अब स्थिति बदल रही है। मोदी सरकार ने देश के हर गांव में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य रखा है, जिसके तहत कार्य भी किए जा रहे हैं।

अचलीखेड़ा गांव के फकीरखेड़ा मजरे में तो लोग बेहद खुश हैं। गांववालों ने एक-दुसरे को मिठाई खिलाकर बधाई दी। पहली बार गांव के घरों में टीवी चल रहे हैं, पंखे चल रहे हैं। ग्रामीणों के चेहरे पर एक अलग ही लालिमा है।

village

newshunt


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement