इन 5 साइकल्स को देखकर आप भौंचक्के रह जाएंगे!

Updated on 1 Sep, 2017 at 10:09 am

Advertisement

साइकिल चलाना हमलोगों ने सबसे पहले सीखा है। चाहे वो खेलने वाला साइकिल हो या फिर स्कूल जानेवाला छोटा साइकिल। लेकिन साइकिल ही सबसे पहले वाहन चलाने और रफ्तार का अनुभव कराने वाला होता है। 200 साल के अपने इतिहास में साइकिल की सैकड़ों वैरायटी उपलब्ध हैं। आइये हम कुछ ऐसे साइकिलों की बात करते हैं जो दिखने में अजीबोगरीब लगते हैं।

1. हाई व्हील

इस साइकिल को पेनी-फार्दिंग भी कहा जाता है। यह पहली मशीन थी जिसे ‘बाइसिकिल’ कहा गया था। स्वीडन के आर्किटेक्ट पेयर-ओलॉफ किप्पेल ने इस बाइसिकिल को 2013 में अनोखे डिजाइन में बनाया जिसे हाई व्हीलर कहा गया। तस्वीर से स्पष्ट है कि यह आम साइकिल से बहुत ऊंची है। इतने ऊपर एक चक्के पर बैठना एक बार तो किसी को डरा सकता है। इसका बैलेंस बनाना वही जाने जो चक्के पर बैठा है!

2. क्विगल

ये साइकिल आपको बैठने नहीं देता है। पैडल पर खड़े-खड़े ही इसे चलाना पड़ता है। यह 8.5 किलोग्राम वजनी होता है और इसका आकार भी बेहद छोटा होता है। क्विगल को दुनिया का सबसे कॉम्पैक्ट बाइक कहा जाता है।

3. हाफबाइक

हाफ पैंट की तरह ही आ गया ये हाफ बाइक। साइकिल के इस मॉडल को बाइसिकिल और स्केटबोर्ड का हाइब्रिड कहें तो किसी को कोई दिक्कत नहीं होगी। बुल्गारिया के दो आर्किटेक्ट्स ने इसे बनया है जिसमें हैंडल ही नहीं है। अगर आपको चलाते हुए दिशा बदलनी है तो शरीर को झुकाकर उसके भार से ही आपको सही दिशा में ले जाना होगा। पूरी तरह ये चालक के बैलेंस पर निर्भर है।

4. बेड बाइक

ये लो, इसे ही तो तब से ढूंढ रहा था। इतनी मुश्किलों से एक पहिए तो कभी दो पहिए वाला साइकिल चलाना थका देने काम है। उस पर भी कोई बिना हैंडल का भी है, तो फिकर न करें आ गई है बेड बाइक। एकदम आरामदायक है ये। हो भी क्यों न, इसे सोकर जो चला सकते हैं। यह एक भारी भरकम मॉडल है। जरूरी नहीं कि इसे खरीदकर ही चला सकते हैं, जर्मनी की राजधानी बर्लिन में इसकी सवारी कर शहर घूम सकते हैं। यह अलग बात है कि लोग आपको घूम-घूम के देखने लगेंगे। घबराइएगा मत।

5. लोपिफिट

ये देखिए, ये एक ऐसी साइकिल है जिसे आप टहलते हुए चला सकते हैं। डच डिजाइन की लोपिफिट में प्रोपेलर और इलेक्ट्रिक मोटर लगा होता है। इस पर चलते हुए आप दोगुनी तेजी से दूरी तय कर सकते हैं। इसमें ब्रेक भी लगा है, लेकिन जब आप चलना बंद करते हैं तो ये भी रुक जाती है।


Advertisement

इससे पता चलता है कि भले हम लोग कार के नये-नये डिजाइन तलाशते रहते हैं, साइकिल भी डिजाइन और तकनीक से खुद को अपडेट कर रही है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement