इस बच्चे ने सिर्फ 15 साल की उम्र में पास कर ली आईआईटी प्रवेश परीक्षा

Updated on 4 Sep, 2018 at 11:15 am

Advertisement

प्रतिभा समय, साधन और स्थान की मोहताज नहीं होती। ईमानदार प्रयास करने वालों की विजय सुनिश्चित होती है। इसका ताजा उदाहरण बिहार का ये लड़का है, जिसने महज 15 साल की उम्र में आईआईटी प्रवेश परीक्षा (IIT JEE) क्रैक कर सबको हैरत में डाल दिया है। राज्य की जर्जर शिक्षा व्यवस्था का रोना रोने की बजाय इसने जी तोड़ मेहनत कर अपना रास्ता बना लिया है।

आईआईटी प्रवेश परीक्षा

 

भोजपुर ज़िले का शिवम ने खेलने-कूदने की उम्र में बड़ी उपलब्धि प्राप्त की है!

 


Advertisement

 

एक किसान के बेटे की इस सफलता से सभी विद्यार्थी प्रेरणा ले सकते हैं। शिवम ने जेईई एडवांस 2018 की परीक्षा में 383वीं रैंक हासिल किया है। इसने अपनी सफलता का श्रेय अपने बड़े भाई और शिक्षक को दिया है। बता दें कि शिवम के बड़े भाई सत्यम ने 2012 में ये परीक्षा पास की थी, लेकिन रैंक अच्छी नहीं आई तो उसने कोटा में कोचिंग लेने के बाद 2013 में 679वीं रैंक हासिल की। फिलहाल, वे आईआईटी कानपुर में एमटेक की पढ़ाई कर रहे हैं।

 



जब शिवम के बड़े भाई कोटा गए थे, तभी शिवम ने भी ठान ली थी कि वह भी आईआईटी से पढ़ेगा। उसने 12वीं में 92 प्रतिशत अंक प्राप्त किए और फिर कोचिंग के साथ ही 8-9 घंटे स्वाध्याय के बाद बड़े भाई की सलाह से उसने परीक्षा में सफलता हासिल किया।

 

 

शिवम आईआईटी खड़गपुर से कंप्यूटर साइंस की पढ़ाई करना चाहता है। बखोरापुर गांव का रहने वाला शिवम अपने भाई सहित इस बड़े संस्थान में पढ़कर क्षेत्र के अन्य बच्चों के लिए प्रेरणा बन रहा है। तो वहीं पिता सिद्धनाथ खेती-किसानी करते हैं और उन्हें अपने बच्चों पर पूरा भरोसा है, गर्व है!

 

IIT Kharagpur (आईआईटी खड़गपुर)

jagran.com


Advertisement

वाकई किसी भी पिता के लिए ये क्षण बेहद खुशी का हो सकता है। इन्हें हमारी ओर से भी शुभकामनाएं हैं!

आपके विचार


  • Advertisement